देवबंद में जातीय संघर्ष, फायरिंग और पथराव

Loktantranews: सहारनपुर जिले के देवबंद में कोतवाली क्षेत्र का गांव साखन कला रविवार की अलसुबह ताबड़तोड़ फायरिंग से गूंज उठा। गांव के ही जाट और अनुसूचित समाज के युवकों में हुई मामूली कहासुनी ने जातीय संघर्ष का रूप ले लिया। जिसके बाद दोनों ओर से हुई ताबड़तोड़ फायरिंग और पथराव में कई लोग घायल हो गए। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण करते हुए दोनों पक्षों के कई लोगों को हिरासत में लिया।कोतवाली क्षेत्र के साखन कला निवासी पंकज ने गांव से बाहर दूध की डेरी खोल रखी है। शनिवार की रात्रि गांव के ही अनुसूचित जाति के कुछ युवक उसकी डेयरी के समीप शराब पी रहे। आरोप है कि जब पंकज ने उक्त युवकों को शराब पीने से मना किया तो दोनों ओर से कहासुनी हो गई और मामला मारपीट तक पहुंच गया। सूचना के बाद पहुंची पुलिस दोनों पक्षों के दो लोगों को कोतवाली में ले आई। रविवार को इसी बात से नाराज अनुसूचित जाति के सैकड़ों लोगों ने एकत्रित होकर पंकज व उनके परिवार के लोगों पर हमला बोल दिया। इस दौरान भीड़ में शामिल कुछ युवकों ने हवाई फायरिंग करते हुए पथराव भी किया। घर में मौजूद महिलाओं और बच्चों में हड़कंप मच गया।
सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक अशोक सोलंकी ने स्थिति को नियंत्रण में करते हुए भीड़ को हटाते हुए दोनों पक्षों के मौजूद लोगों को बैठाकर समझाने का प्रयास किया। बताया जाता है जाट पक्ष की ओर से 20 लोगों के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी गई है। वहीं अनुसूचित जाति के लोगों ने भी जाट समाज के लोगों पर गाली गलौज व मारपीट का आरोप लगाया है। बताया जाता है रविवार की सुबह हुए पथराव में कुछ युवक भीम आर्मी से भी जुड़े हुए थे। जो पथराव के बाद गांव से फरार हो गए। वहीं पुलिस पूरे मामले की जांच की बात कह रही है। गांव में तनाव की स्थिति देखते हुए पुलिस बल तैनात किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *